करगिल दिवस की 20वीं वर्षगांठ पर वॉर मेमोरियल से निकलेगा विजय मशाल

नईदिल्ली,14 जून (आरएनएस)। देश गौरव, प्रतिष्ठा और प्रेरणा के साथ ऑपरेशन विजय जिसे कारगिल युद्ध के रूप में भी जाना जाता है, उसकी इस वर्ष 20वीं वर्षगांठ मना रहा है।
कारगिल युद्ध को हमेशा रणनीतिक और सुनियोजित तरीके से अचंभे में डाल देने वाली घटना, खुद पर संयम रखकर युद्ध को कारगिल-सियाचिन क्षेत्रों तक सीमित रखने तथा तीनों सेनाओं की रणनीति और योजनाओं को तेजी से निष्पादित करने के रूप में हमेशा याद किया जाएगा। कारगिल युद्ध हमेशा संकल्प और बहादुर जवानों के साहस के लिए भी याद रखा जाएगा।
इस वर्ष ऑपरेशन विजय की 20वीं वर्षगांठ स्मरण, आनन्द और दोहराने की विषय वस्तु के साथ मनाई जा रही है। हम अपने शहीदों के बलिदान को याद करके और उनके गौरव को मन में बैठाकर कारगिल में विजय का जश्न मनाते हैं तथा अपने इस प्रण को दोहराते हैं कि तिरंगे की रक्षा करते हुए उसकी शान हमेशा बनाए रखेंगे।
इन समारोहों का उद्देश्य विशेषकर युवाओं के बीच देशव्यापी अभियानों के जरिए राष्ट्रवाद और देशभक्ति की भावना को ताजा करने और अपने बहादुर सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित करना है। सभी कार्यक्रमों को हमारे बहादुर जवानों के पराक्रम की गाथाओं को सुर्खियों में लाकर तैयार किया जा रहा है, जो देश के युवाओं को प्रेरित करेगा।
इस वर्ष कारगिल विजय दिवस समारोह 25-27 जुलाई, 2019 तक मनाया जाएगा और इसका आयोजन द्रास तथा नई दिल्ली में किया जाएगा। तथापि मुख्य घटना के लिए अनेक कार्यक्रम देश भर में जुलाई के पहले सप्ताह में आयोजित किए जाएंगे।
आयोजित कार्यक्रमों में कारगिल युद्ध में भाग लेने वाली यूनिटों के अभियान शामिल हैं, जिनका आयोजन ऊंचाई वाले स्थानों जैसे तोलोलिंग, टाइगर हिल, प्वाइंट 4875 जैसे उनके सम्बद्ध युद्ध क्षेत्र में होगा। जुलाई 2019 में आयोजित कार्यक्रमों में देश के विभिन्न राज्यों और संघ शासित प्रदेशों के एनसीसी कैडिटों के लिए एक विशेष राष्ट्रीय एकता शिविर का आयोजन शामिल है। यह अनोखा कार्यक्रम लेह में 12 दिन चलेगा। लद्दाख क्षेत्र में स्कूली बच्चों के लिए निबंध और चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है।
लद्दाख के लोगों के लिए कारगिल विजय दिवस एक विशेष अवसर है। लद्दाख के लोग एक दौड़ शहीदों के नाम में भाग लेंगे, जिसमें क्षेत्र के सुदूरवर्ती इलाकों के नागरिक, लद्दाख के सुदूरवर्ती गांवों के बहादुर सेवानिवृत्त योद्धा शामिल होंगे। अन्य कार्यक्रमों के अलावा स्थानीय आबादी के लिए पोलो और तीरंदाजी जैसे खेल और प्रतिस्पर्धाएं आयोजित की गई हैं। लद्दाख क्षेत्र में 11500 फुट की ऊंचाई पर स्थित एनडीएस मेमोरियल स्टेडियम में टी-20 क्रिकेट चैंपियनशिप का आयोजन किया गया है। इसका उद्देश्य क्षेत्र में क्रिकेट खेलने वाली युवा प्रतिभाओं को आगे बढ़ाना है। इस टूर्नामेंट में भारतीय सेना, भारतीय वायुसेना, आईटीबीपी और समूचे लद्दाख क्षेत्र के स्थानीय क्लबों की टीमों को देखने का अवसर मिलेगा।
कारगिल विजय दिवस (26 जुलाई, 2019) के अवसर पर ऑपरेशन विजय के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वाले बहादुरों के सम्मान में द्रास में कारगिल वार मेमोरियल में पुष्पांजलि स्मारक समारोह आयोजित किया जाएगा।
राष्ट्रीय राजधानी में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक से विजय मशाल प्रज्ज्वलित करने के साथ समारोहों की शुरूआत 14 जुलाई को होगी जो 19 जुलाई तक चलेंगे। यह मशाल 11 कस्बों और शहरों से गुजरते हुए अंत में द्रास पहुंचेगी, जहां यह कारगिल वार मेमोरियल में निरंतर जल रही मशाल में मिल जाएगी। मशाल ले जाने वाला दल शैक्षणिक और देश भक्ति संबंधी चर्चाएं करेगा और विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों में जानी-मानी हस्तियों और छात्रों से बातचीत करेगा। नई दिल्ली स्थित मानेकशॉ केन्द्र में स्मरणोत्सव का आयोजन किया जा रहा है, जहां सेवानिवृत्त योद्धाओं और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ चर्चा होगी। इसके बाद 27 जुलाई को इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम कारगिल विजय दिवस इवनिंग का आयोजन होगा, जिसमें अनेक गणमान्य व्यक्ति शामिल होंगे।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *