एमटीएनएल, बीएसएनएल की दिल्ली, मुंबई, कोलकाता की इमारतों में आग मामले में जांच के आदेश

नईदिल्ली,23 जुलाई (आरएनएस)। एमटीएनएल बांद्रा टेलीफोन एक्सचेंज, मुंबई, बीएसएनएल बिल्डिंग साल्ट लेक, कोलकाता में आग की दो बड़ी घटनाएं और नई दिल्ली के किदवई भवन में एमटीएनएल बिल्डिंग में आग की छोटी घटना 22 जुलाई को हुईं। आग की इन घटनाओं को अग्निशमन विभागों द्वारा नियंत्रित किया गया था। घटना के समय इमारत में एमटीएनएल/बीएसएनएल के कर्मचारियों या अन्य व्यक्तियों के हताहत होने की कोई सूचना नहीं थी।
अग्निशमन और पुलिस विभागों द्वारा आग के कारणों की जांच की जा रही है। संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी और कानून और न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बीएसएनएल / एमटीएनएल द्वारा उक्त आग की घटनाओं के संबंध में उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने यह भी आदेश दिया है कि बीएसएनएल और एमटीएनएल को अपने प्रत्येक भवन / प्रतिष्ठान का समयबद्ध तरीके से नए सिरे से फायर एंड सेफ्टी ऑडिट करवाना चाहिए।
एमटीएनएल के स्वामित्व और उपयोग में भू-तल और नौ मंजिला भवन में एमटीएनएल बांद्रा टेलिफोन एक्सचेंज स्थित है। इस भवन में प्रशासनिक कार्यालयों के अलावा लगभग 25,000 की कार्यशील टेलीफोन लाइनों के साथ दो टेलीफोन एक्सचेंज हैं। 22 जुलाई को लगभग 15:00 बजे आग लगी और 23 जुलाई, 2019 को 03:00 बजे पूर्वाह्न तक पूरी तरह से नियंत्रित किया गया। एमटीएनएल द्वारा बताया गया था कि भवन का अंतिम फायर ऑडिट 12 जुलाई, 2018 को किया गया था और भवन में नियमों का अनुपालन होना पाया गया था। लगभग 25,000 ग्राहकों को लैंड लाइन सेवाएं और लगभग 8000 ग्राहकों की इंटरनेट सेवाएं प्रभावित हैं, जिसके अगले चार दिनों के भीतर बहाल होने की संभावना है।
एमटीएनएल किदवई भवन में आग की घटना
एमटीएनएल किदवई टेलीफोन एक्सचेंज के तकनीकी हिस्से पर एक भू-तल और छह मंजिल का भवन है और एमटीएनएल और बीएसएनएल दोनों के कब्जे में प्रशासनिक हिस्से में भू-तल और आठ मंजिल का भवन है। इमारत में एमटीएनएल टेलीफोन एक्सचेंज और एमटीएनएल और बीएसएनएल के प्रशासनिक कार्यालय हैं। 22 जुलाई को लगभग 4 बजे सुबह आग लगी और 7.45 बजे सुबह तक पूरी तरह से काबू किया गया। एमटीएनएल द्वारा बताया गया था कि भवन का अंतिम फायर ऑडिट 27 मई को किया गया था और भवन में नियमों का अनुपालन होना पाया गया था। इस आग की घटना से परिसर से उपलब्ध सभी दूरसंचार सेवाएं अप्रभावित हैं।
कोलकाता के साल्ट लेक में बीएसएनएल की इमारत में आग लगने की घटना
इस चार मंजिला इमारत में, 22 जुलाई को शाम 7 बजे आग लग गई और 23 जुलाई को देर रात 1:20 बजे तक आग पर काबू पाया गया। इससे जुड़ी (अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और पश्चिम बंगाल के लिए डेटा सेवाओं को छोड़कर) सभी मोबाइल सेवाओं को तुरंत बहाल कर दिया गया था। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह की मोबाइल सेवाएं और पश्चिम बंगाल में डेटा सेवाएं अगले चौबीस घंटों में बहाल होने की संभावना है।
प्रभावित स्थानों पर नेटवर्क और सेवाओं की पूर्ण बहाली सुनिश्चित करने के लिए बीएसएनएल और एमटीएनएल की विशेषज्ञ टीमों को चौबीसों घंटे तैनात किया गया है। दोनों संगठनों में सीएमडी स्तर पर स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *