किसानों की मेहनत से छत्तीसगढ़ बना देश का अग्रणी राज्य : डॉ. रमन सिंह

रायपुर, 28 जनवरी (आरएनएस)। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि प्रदेश के उन्नतशील किसानों की मेहनत से आज छत्तीसगढ़ देश के अग्रणी राज्यों में शामिल हो गया है। छत्तीसगढ़ में कृषि के क्षेत्र में अद्भुत उन्नति हुई है। छत्तीसगढ़ को चावल उत्पादन के लिए तीन बार और दलहन उत्पादन के लिए एक बार राष्ट्रीय कृषि कर्मण पुरस्कार से सम्मानित किया गया। प्रदेश में धान के उत्पादन में बढ़ोत्तरी के साथ-साथ दलहन-तिलहन का रकबा बढ़ा है। मक्के के उत्पादन में किसानों की रुचि बढ़ी है। बागवानी फसलों और सब्जियों के उत्पादन में वृद्धि हुई है। किसान फूलों की खेती भी कर रहे हैं। बीज उत्पादन में छत्तीसगढ़ आत्मनिर्भर बन गया है। मुख्यमंत्री आज यहां इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के सामने जोरा में आयोजित राष्ट्रीय कृषि समृद्धि मेले के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला ने की।
मुख्यमंत्री ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि राजधानी रायपुर में पिछले तीन साल पहले कृषि मेले की शुरूआत हुई है। राज्य स्तरीय मेले के रूप में आयोजित किसानों का यह महाकुंभ किसानों की भागीदारी और कृषि विभाग की सक्रियता से अब यह राष्टीय स्वरूप ले चुका है। मेले में किसान खेती किसानी की उन्नत तकनीक, कृषि में नये प्रयोगों और नवाचारों को देखते,समझते और सीखते हैं और अपने खेतों में भी अपनाते है। कृषि मेले का लाभ लाखों किसान लेते हैं। खेती की आधुनिक तकनीक सीख रहे हैं और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के वर्ष 2022 तक देश के किसानों की आमदनी दोगुनी करने की कल्पना को साकार करने आगे बढ़ रहे हैं। मेले में प्रदेश के सभी जिलों से बड़ी संख्या में किसान आते हैं। मेले में राज्य सरकार की योजनाओं और उपलब्धियों का मॉडल के माध्यम से जीवंत प्रस्तुतिकरण कर किसानों को समझाया जाता है। डॉ. सिंह ने कहा कि राज्य सरकार की किसान हितैषी नीतियों से किसानों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *