मुख्यमंत्री के निर्देश पर मनीष को ईलाज के लिए एक लाख रूपये की सहायता मिली

कोरबा 16 जून (आरएनएस)। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर कोरबा जिला मुख्यालय के बुधवारी बस्ती में रहने वाले किडनी के रोग से पीडि़त बच्चे को एक लाख रूपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध करा दी गई है। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने जिला प्रशासन की तरफ से पचास हजार रूपये और दर्री में पदस्थ सीएसपी श्री शेर बहादुर ने 50 हजार रूपये की सहायता दी है।
बुधवारी बाजार बस्ती में रहने वाले श्री धनेन्द्र गभेल के बेटे मनीष गभेल को छोटी सी उम्र में ही किडनी का रोग होने से उसकी दोनों किडनी खराब हो गई है। बच्चे की किडनी ट्रांसप्लांट किया जाना है। मां श्रीमती अनीता गभेल अपनी एक किडनी बच्चे को देने तैयार है पर ट्रांसप्लांट में लगभग सात लाख रूपये का खर्चा है। इतनी बड़ी रकम का इंतजाम करना इस गरीब परिवार के लिए संभव नहीं है इसलिए अपने बच्चे की जिंदगी बचाने आर्थिक सहायता की अपील मां श्रीमती अनिता ने की है।
समाचार पत्रों तथा सोशल मीडिया में खबर प्रकाशन के बाद मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने संवेदनशीलता का परिचय देते हुए इसे संज्ञान में लिया और जिला कलेक्टर को मनीष के ईलाज के लिए हर संभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। इसके बाद मनीष को अब तक एक लाख रूपये की सहायता शासन-प्रशासन की ओर से मिल गई है। मनीष के ईलाज के लिए कटघोरा के एसडीएम श्री अजय रांव ने कल मनीष के घर जाकर जिला प्रशासन की तरफ से 50 हजार रूपये सहायतार्थ मनीष की मां को दिए हैं। दर्री के सीएसपी श्री शेर बहादुर सिंह ने भी परिवार को 50 हजार रूपये की सहायता दी है। आर्थिक सहायता के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की संवेदनशीलता और उनके निर्देश पर मिली सहायता के लिए मनीष के परिजनों ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापित किये हैं। मनीष की मां श्रीमती अनीता ने कहा कि अब उन्हें विश्वास है कि उनके बेटे का ईलाज सही ढंग से हो जाएगा। अनीता ने कहा कि जिस प्रदेश में सबकी विशेषकर गरीबों की चिंता करने वाले मुख्यमंत्री हो, उस प्रदेश में कोई मनीष किसी भी बीमार के कारण पैसों की कमी से अब असमय ही काल का ग्रास नहीं बनेगा।

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *