विकास, सद्भावना, शांति, सौहार्द एवं प्रेम के मार्ग पर चल रहा है छत्तीसगढ़ – डॉ. रमन सिंह

बिलासपुर, 06 जनवरी (आरएनएस)। मनखे-मनखे एक समान की भावना के साथ छत्तीसगढ़ राज्य विकास, सद्भावना, शांति, सौहार्द एवं प्रेम के मार्ग में चल रहा है। संत बाबा गुरूघासीदास ने धर्म का रास्ता दिखाया। उस रास्ते पर चलकर मानवता के लिए कार्य करना होगा। उनका पवित्र संदेश हमारे मन, वचन एवं कर्म में शामिल हो। यह उद्गार मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज बिल्हा में आयोजित संत बाबा गुरूघासीदास की 261वीं जयंती के अवसर पर आयोजित समारोह में व्यक्त किया। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन, उद्योग एवं वाणिज्यिक कर मंत्री अमर अग्रवाल, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, उपभोक्ता संरक्षण मंत्री पुन्नूलाल मोहले और सहकारिता, संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री दयालदास बघेल, सांसद लखनलाल साहू विशेष रूप से उपस्थित थे। बिल्हा के अग्रसेन कॉलेज मैदान में आयोजित उक्त समारोह में उपस्थित विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि संत बाबा गुरूघासीदास ने अपने जन्मस्थली और कर्मस्थली में तप किया और सिद्धी प्राप्त कर समाज के उद्धार के लिए निकल पड़े। जनता के कष्टों का निवारण किया। बाबा की जन्मस्थली गिरौधपुरी में आज भी जो सच्चे मन से जाता है उनकी मन्नत अवश्य पूरी होती है। बाबा द्वारा दिए गए 7 संदेश हमें मानवता से जोड़ते हैं।

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *