उमा भारती ने की कुंभ में स्वच्छता प्रबंधों की समीक्षा

नई दिल्ली ,18 जनवरी (आरएनएस)। केन्द्रीय पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री सुश्री उमा भारती ने प्रयागराज में जारी कुंभ मेले में बेहतर स्वच्छता और स्वच्छ भारत के बारे में जागरूकता फैलाने की दिशा में उठाए गए कदमों की समीक्षा की है।
इस दौरान उन्होंने पाया कि प्रयागराज कुंभ मेले में स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों के 1500 स्वच्छाग्राहियों को तैनात किया गया है। स्वच्छताग्राहियों को शौचालयों की साफ-सफाई के काम पर नजर रखने और जागरूकता फैलाने का जिम्मा सौंपा गया है। निगरानी का काम आईसीटी एप के माध्यम से किया जाएगा, जिसमें स्वच्छता की स्थिति रिकॉर्ड की जाएगी। सुश्री भारती ने 50 स्वच्छताग्राहियों को स्वच्छता किट वितरित की और ‘स्वच्छ ग्रामÓ की अवधारणा पर आधारित एक प्रदर्शनी का भी उद्घाटन किया। सुश्री उमा भारती ने मेले में विशेष रूप से आयोजित किए गए स्वच्छताग्राही सम्मेलन को संबोधित किया तथा कुंभ मेले को साफ-सुथरा और सुरक्षित बनाने की दिशा में मेला और जिला प्रशासन द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की। उन्होंने पिछले दो वर्षों में उत्तर प्रदेश में स्वच्छता कवरेज 48 प्रतिशत से बढ़ाकर 100 प्रतिशत किए जाने तथा राज्य द्वारा अब खुले में शौच से मुक्ति (ओडीएफ-प्लस) पर ध्यान केन्द्रित किए जाने के लिए राज्य सरकार की सराहना की। उन्होंने स्वच्छता के कार्य में महिलाओं के योगदान की भी प्रशंसा की। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) को सफल बनाने के लिए स्वच्छाग्राहियों द्वारा जमीनी स्तर पर किए गए शानदार कार्यों की भी सराहना की। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य भी सुश्री भारती के साथ मौजूद थे। उन्होंने स्वच्छाग्राहियों द्वारा किए गए कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि स्वच्छता और साफ-सफाई सभी का सरोकार होना चाहिए। उत्तर प्रदेश के शहरी विकास कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने भी मेले को स्वच्छ मेला बनाने के लिए स्वच्छाग्राहियों द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *