काले धन सहित कई वैश्विक मुद्दों पर हुई चर्चा

नई दिल्ली ,01 दिसंबर (आरएनएस)। हाल में शुरू हुए जी-20 शिखर सम्मेलन में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और जापान के पीएम शिंजो आबे के साथ मिलकर कई महत्वपूर्ण वैश्विक मुद्दों पर चर्चा तो की ही, साथ ही उन्होंने कहा कि आतंकवाद और वित्तीय अपराध आज दो सबसे बड़े ऐसे खतरे हैं, जिनका पूरी दुनिया सामना कर रही है।

ब्यूनस आयर्स में जारी जी-20 समिट में अनौपचारिक बैठक के दौरान मोदी ने इस बात पर ज़ोर डाला कि आखिर दुनिया को आतंकवाद और वित्तीय अपराधों के खतरे के खिलाफ क्यों एकजुट होने की ज़रूरत है। मोदी ने कहा, आतंकवाद और कट्टरतावाद दुनिया के लिए एक बड़ा खतरा है, लेकिन वित्तीय अपराध करने वाले लोग भी बड़ा खतरा हैं। हमें काले धन के खिलाफ एकजुट होकर काम करना होगा।

पीएम मोदी ने दुनिया के सभी विकासशील देशों को एकजुट होने के लिए कहा और उनसे सामान्य हितों की दिशा में काम करने का आग्रह किया। बकौल मोदी, हमें संयुक्त राष्ट्र और अन्य बहुपक्षीय संगठनों के विकासशील देशों के हित के लिए एक आवाज में बात करनी है। यही वजह है कि हम ब्रिक्स के लिए एक साथ आए हैं।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *