ईनामी नक्सली कमांडर ने किया आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा, 16 मई (आरएनएस)। छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास एवं आत्म समर्पण नीति से प्रभावित, पुलिस द्वारा चलाये गये नक्सल विरोधी अभियान से दबाव में आकर , समाज की मुख्य धारा में शामिल होने की इच्छा, आंध्रप्रदेश के बड़े नक्सली लीडरों की प्रताडऩा एवं भेदभाव से प्रताडि़त होकर एक लाख के ईनामी नक्सली जनमिलिशिया कमांडर ने दंतेवाड़ा पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक किरंदुल थाना क्षेत्र के मड़कामीरास पटेलपारा निवासी मंगडू पिता आयतु कश्यप मलांगिर एरिया कमेटी में जन मिलिशिया कमांडर था। उसने अपने नक्सली साथियों के साथ मिलकर 2012 में सीआईएसएफ के जवानों के वाहन पर हमला किया था। इसमें वाहन चालक और सात जवान शहीद हुए थे। सन 2015 में चोलनार निवासी कांग्रेसी नेता सन्नू और 2016 में इसी इलाके के विजय मंडावी को पुलिस का मुखबिर बताते हत्या कर दी थी। 2018 में एस्सार कंपनी के पास वाहनों को आग लगाकर क्षति पहुंचाने सहित कई वारदातों में शामिल रहा है। आत्म समर्पित नक्सली ने बताया कि वह 2006 में एरिया कमांडर बदरू के कहने पर नक्सली संगठन में शामिल हुआ था, इसके बाद वह लगातार संगठन के लिए काम करता रहा।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *