लोकसभा में विपक्ष ने नोटबंदी पर सरकार को घेरा

नई दिल्ली ,11 फरवरी (आरएनएस)। लोकसभा में अंतरिम बजट पर चर्चा के दौरान विपक्षी दलों ने नोटबंदी के फैसले पर सरकार को घेरने का प्रयास किया, लेकिन विपक्ष पर पलटवार करते हुए संप्रग के समय तबाह हुई अर्थव्यवस्था को वापस पटरी पर लाने और नोटबंदी के बाद से कर चोरी पर अंकुश के साथ करदाताओं की संख्या बढऩे का दावा किया है।
लोकसभा में अंतरिम बजट पर चर्चा में भाग लेते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली ने कहा कि अंतरिम बजट को सरकार के पिछले पांच साल के कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड कहा जा सकता है। मोइली ने कहा कि नोटबंदी के रूप में सरकार ने ‘पापÓ किया है और जनता इसके लिए माफ नहीं करेगी। मोइली ने रक्षा बजट का उल्लेख करते हुए राफेल सौदे को ‘घोटालेÓ की संज्ञा दी और कहा कि यह स्पष्ट है कि सरकार ने अब तक लोकपाल की नियुक्ति क्यों नहीं की है। उन्होंने दावा किया कि अगर लोकपाल बन गया होता तो इसके समक्ष प्रधानमंत्री पहले आरोपी होते। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने महिलाओं, सामाजिक न्याय के लिए बजट आवंटन में कटौती की और अपने प्रचार पर हजारों करोड़ रुपये खर्च किए। उन्होंने कहा कि जीएसटी से छोटे कारोबारियों की हालत खराब हो गई और निवेश के मामले में भी यह सरकार फिसड्डी साबित हुई है। सरकार पर विभिन्न मुद्दों पर असत्य बोलने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि राफेल की हार होगी और राहुल गांधी की जीत होगी। अन्नाद्रमुक के एम तंबिदुरै ने भी सरकार को नोटबंदी को लेकर आड़े हाथ लिया और कहा कि सरकार के इस फैसले से देश को कुछ हासिल नहीं हुआ, बल्कि छोटे कारोबारी बर्बाद हो गये। हालांकि उन्होंने कहा कि अब अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे पटरी पर लौट रही है।
विपक्ष पर निशाना
लोकसभा में चर्चा में हस्तक्षेप करते हुए केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने कांग्रेस और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि पिछली सरकार में ‘अर्थशास्त्रियों के समूहÓ ने हमारी अर्थव्यवस्था को तबाह कर दिया था जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इस सरकार ने दुनिया की सबसे अच्छा प्रदर्शन करती अर्थव्यवस्था बनाया है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी दरअसल नोट बदली थी और इसके बाद कर चोरी रुकी है तथा करदाताओं की संख्या बढ़ी है। सिन्हा ने कहा कि संप्रग सरकार के समय ‘कर आतंकवादÓ था लेकिन हमारी सरकार ने उसे खत्म किया है और करदाताओं की संख्या बढ़ी है जिससे जीडीपी भी करीब दो प्रतिशत बढ़कर 12 प्रतिशत के स्तर पर है। सिन्हा ने कहा कि इस सरकार ने आयुष्मान योजना, उज्ज्वला योजना, मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना और उड़ान योजना के लाभों को देश के दूर-दराज के गांवों तक पहुंचाया है। उन्होंने राफेल सौदे पर कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि विपक्षी पार्टी की सरकार में इतने सालों तक ये विमान नहीं खरीदे गये और जवानों के लिए जरूरी बुलेटप्रूफ जैकेट भी नहीं खरीदे गये। सिन्हा ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए लगाया कि आपको बिचौलिए प्यारे हैं, हमको जवान प्यारे हैं।
कर्नाटक का मुद्दे पर कांग्रेस के आरोप खारिज
लोकसभा में कर्नाटक में विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त से जुड़े ऑडियो टेप के मुद्दे पर लोकसभा में सोमवार को हंगामे की स्थिति रही और शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खडग़े ने आरोप लगाया कि उनके लोकसभा क्षेत्र में पडऩे वाली एक विधानसभा क्षेत्र के विधायक को प्रलोभन देकर तमाम आश्वासन दिये गये हैं। उन्होंने कथित टेप बातचीत के अंश भी पढ़े। केंद्रीय मंत्री और कर्नाटक से सांसद सदानंद गौड़ा ने कहा कि पिछले आठ महीने से राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस और जद-एस के बीच लड़ाई चल रही है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस के अंदर भी घमासान मचा हुआ है और पिछले दिनों पार्टी के एक विधायक ने अपनी ही पार्टी के दूसरे विधायक की पिटाई की और वह अस्पताल में हैं। केंद्रीय सांख्यिकी मंत्री गौड़ा ने कांग्रेस सदस्यों पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए कहा कि यह राज्य का विषय है और इस मुद्दे पर चर्चा राज्य विधानसभा में होनी चाहिए, जहां सत्र चल रहा है। इसके बाद जब लोकसभा अध्यक्ष ने अंतरिम बजट पर चर्चा शुरू कराई तो कांग्रेस सदस्य खडग़े ने कहा कि हम कर्नाटक के मुद्दे पर चर्चा की मांग कर रहे हैं लेकिन सरकार इसे स्वीकार नहीं कर रही। इसके बाद कांग्रेस के सदस्यों ने सदन से वाकआउट कर दिया। इससे पहले सुबह प्रश्नकाल आरंभ होने के साथ ही कांग्रेस के सदस्यों ने यह विषय उठाया। कर्नाटक मुद्दा एवं अन्य विषयों पर विपक्षी दलों के सदस्यों की नारेबाजी के कारण प्रश्नकाल नहीं चल सका।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *