सीबीआई के अंतरिम निदेशक राव की नियुक्ति को न्यायालय में चुनौती

नयी दिल्ली ,14 जनवारी (आरएनएस)। सीबीआई में जारी विवाद अब भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। पीएम मोदी की सदस्यता वाली समिति की ओर से सीबीआई चीफ आलोक वर्मा को हटाए जाने के बाद अब अंतरिम मुखिया एम. नागेश्वर राव के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर हुई है।
एनजीओ कॉमन कॉज ने वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण के जरिए नागेश्वर राव को सीबीआई का अंतरिम मुखिया बनाए जाने के फैसले को चुनौती दी है। आलोक वर्मा को उच्च स्तरीय कमिटी की ओर से हटाए जाने के बाद नागेश्वर राव को अंतरिम मुखिया के तौर पर जिम्मेदारी दी गई थी। 10 जनवरी को वर्मा को हटाने के फैसले के बाद उन्हें फायर सर्विस, सिविल डिफेंस और होम गाड्र्स का डीजी बनाया गया था। हालांकि उन्होंने इस जिम्मेदारी को स्वीकार करने से ही इनकार कर दिया और आईपीएस सेवा से ही इस्तीफा दे दिया। गौरतलब है कि अंतरिम मुखिया बनाए जाने के तत्काल बाद ही नागेश्वर राव ने आलोक वर्मा के लिए फैसलों को पलट दिया था और उनके ट्रांसफर आदेशों को भी खारिज कर दिया था। बता दें कि उच्च स्तरीय कमिटी में पीएम नरेंद्र मोदी, सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस एके सीकरी और मल्लिकार्जुन खडग़े थे। वर्मा को हटाने का खडग़े ने विरोध किया था, लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी और जस्टिस एके सीकरी की राय हटाने के पक्ष में थी और 2-1 से वर्मा को हटाने का फैसला लिया गया।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *