ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगा अक्षरधाम

नई दिल्ली ,11 जनवारी (आरएनएस)। तीन राजमार्गों को जोड़ते हुए अक्षरधाम से ईस्टर्न पेरिफेरल-वे को जोडऩे के लिए एक अलग हाईवे का निर्माण किया जाएगा। 32 किलोमीटर से अधिक लंबे इस हाईवे से एनएच-24, दिल्ली-सहारनपुर हाईवे और ईस्टर्न पेरिफेरल आपस में जुड़ जाएंगे। 1600 करोड़ रुपये की लागत से बनने जा रहे इस हाईवे को ढाई साल के भीतर पूरा कर लिया जाना है। इसके निर्माण के लिए मार्च तक निविदा निकाली जाएगी।
भारत माला परियोजना के तहत बनने जा रहा यह हाईवे दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर के पास (दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे) से शुरू होकर बागपत के खेकड़ा (मवीकलां गांव) में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगा। इस प्रोजेक्ट की डीपीआर तैयार हो गई है। सड़क बनने से दिल्ली और पश्चिमी यूपी और करीब हो जाएंगे। एनएचएआई ने बागपत, गाजियाबाद, नंदनगरी और शास्त्रीनगर (उत्तरी दिल्ली) जिलाधिकारियों को पत्र भेजकर जमीन अधिग्रहण और कानून व्यवस्था में सहयोग के लिए एसडीएम नियुक्त करने के लिए कहा है। एनएचएआई के प्रोजेक्ट मैनेजर आर पी सिंह ने बताया कि लोकसभा चुनाव की घोषणा से पहले सड़क बनाने का काम शुरू हो जाएगा। छह लेन के इस हाईवे पर तीन से चार फ्लाईओवर बनाए जाएंगे।
ढाई घंटे का सफर 20 मिनट में
अक्षरधाम मंदिर से मवीकलां तक सड़क बनने से वेस्ट यूपी के लोगों की राह आसान होगी। ढाई घंटे का सफर महज 20 मिनट में पूरा होगा। शामली, बागपत, सहारनपुर, मेरठ आदि जिलों के लोग बिना जाम में फंसे अक्षरधाम पहुंच सकेंगे। अक्षरधाम मंदिर के पास से लक्ष्मीनगर, गीता कॉलोनी, कैलाश कॉलोनी, शास्त्री पार्क न्यू उस्मानपुर, करतारनगर, खजूरी खास चौक, बिहारीपुर, अंकुर विहार, शारदा सिटी, लोनी, मंडोला एनबीसीसी टाउनशिप से खेकड़ा (मवीकला गांव) तक सड़क जाएगी।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *