बस्तर से 70 प्रतिशत भी उड़ाने नहीं भर पायी एयर उड़ीसा

जगदलपुर, 25 नवंबर (आरएनएस)। बस्तर में बड़े जोर-शोर से शुरू की गई पिछले 14 जून से हवाई सेवा अब फिलहाल इस सेवा को संचालित करने वाली एयर ओडि़शा की लापरवाही से ठप हो चुकी है और अपने कार्यकाल में यह एयर कंपनी 70 फीसदी उड़ानों का संचालन करने में भी फिसड्डी साबित हुई है।

जानकारी के अनुसार अपनी लापरवाही सहित खटारा विमान के साथ बस्तर में उड़ान योजना के तहत सेवा देने वाली एयर ओडि़शा के स्थान पर अब नई सेवा प्रदाता एयर एजेंसी की खोज शुरू हो गई है। इस संबंध में प्रदेश के उड्डयन विभाग के सयुक्त सचिव रजत कुमार का कहना है कि सेवा प्रदान करने में असमर्थ रही एयर ओडि़शा के साथ संबंध समाप्त कर दिया गया है। अब शीघ्र ही सेवा देने वाली नई एजेंसियों से बात चल रही है और शीघ्र ही बस्तर वासियों को पुन: हवाई सेवा प्राप्त हो सकेगी।

उल्लेखनीय है कि गत् 14 जून को प्रधानमंत्री मोदी के करकमलों से शुरू की गई क्षेत्रिय उड़ान सेवा को बड़ी जोर-शोरर से शुरू किया गया था और उम्मीद की गई थी कि इससे बस्तर में कनेक्टीविटी बढ़ेगी तथा लोगों को आवागमन के लिए सुविधा होगी। इस विमान सेवा से सामान्य लोगों को हवाई सेवा प्रदान करने और बस्तर को प्रदेश से जोडऩे सहित देश के अन्य भागों को संपर्क करने के लिए इस हवाई सेवा का शुभारंभ किया गया था। इसको संचालित करने के लिए एयर ओडि़शा को अधिकृत किया गया था। लेकिन इस हवाई सेवा प्रदाता कंपनी का कामकाज अच्छा नहीं रहा और पिछले माहों से यह सेवा ठप पड़ी हुई है। जबकि बस्तर में इस समय विकास का कार्य तेजी से चल रहा है और बनने वाले नगरनार स्टील प्लांट व बस्तर में बढ़ रही टूरिस्टों की रूचि के कारण इसका संचालन आवश्यक था।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *