कांग्रेस ने जारी की उम्मीदवारों की पांचवीं सूची

0-पांचवीं एवं अंतिम सूची में 19 प्रत्याशियों के नाम
0-दुर्ग ग्रामीण से प्रतिमा चन्द्राकर का नाम कटा, सांसद ताम्रध्वज बने उम्मीदवार
0-रेणु जोगी के स्थान पर कोटा से विभोर सिंह बने उम्मीदवार
रायपुर, 01 नवंबर (आरएनएस)। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने आज बाकी बचे प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर दिया है। प्रत्याशियों में 15 नए उम्मीदवारों को जगह मिली है। इन सीटों में रायपुर उत्तर और रायपुर दक्षिण के साथ-साथ बिलासपुर और कोटा के चीर प्रतिक्षित सीटें शामिल हैं। कांग्रेस ने प्रत्याशी घोषित करने में आंखिरी वक्त लगा दिया। लेकिन इससे पहले दावा यह किया जाता था कि कांग्रेस में नए उम्मीदवारों की जगह अगस्त में ही बन गई थी। दिलचस्प बात यह है कि दुर्ग ग्रामीण प्रतिमा चन्द्राकर को उम्मीदवार बनाया गया था लेकिन अब यहां उनके स्थान पर वर्तमान दुर्ग जिले के एकमात्र कांग्रेस के सांसद ताम्रध्वज साहू को उम्मीदवार बनाया गया है। वहीं पूर्व मंत्री एवं भिलाईनगर के पूर्व विधायक बीडी कुरैशी को वैशालीनगर से टिकट दिया गया है।
अंतिम पांचवीं सूची में इन्हें मिला टिकट : कांग्रेस पार्टी की अंतिम पांचवीं सूची में लेलुंगा से चक्रधर प्रसाद सिदार, रायगढ़ से प्रकाश नायक, कोटा से विभोर सिंह, बिल्हा से राजेन्द्र शुक्ला, बिलासपुर शहर से शैलेश पांडे, जैजैपुर से अनिल कुमार चन्द्रा, बसना से देवेन्द्र बहादुर सिंह, धरसींवा से श्रीमती अनीता शर्मा, रायपुर उत्तर से कुलदीप जुनेजा, रायपुर दक्षिण से कन्हैया अग्रवाल, कुरूद से श्रीमती लक्ष्मीकांता साहू, धमतरी से गुरूमुख सिंह होरा, संजारी बालोद से श्रीमती संगीता सिन्हा, गुंडरदेही से कुंवर सिंह निषाद, दुर्ग ग्रामीण से ताम्रध्वज साहू, वैशालीनगर से बदरूद्दीन कुरैशी, बेमेतरा से आशीष छाबड़ा, नावागढ़ से गुरूदयाल सिंह बंजारे और पंडरिया से श्रीमती ममता चन्द्राकर को उम्मीदवार बनाया गया है।
पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल के घर का कांगे्रसियों ने ही किया घेराव: भाजपा के बाद अब कांग्रेस में भी टिकट को लेकर बवाल मचा है। उम्मीदवारों की घोषणा के ठीक पहले पूर्व मंत्री बदरूद्दीन कुरैशी ने अपने समर्थकों के साथ पीसीसी अध्यक्ष के घर धावा बोल दिया था। वे वहां पीसीसी चीफ भूपेश बघेल के इंतजार में बैठे रहे। कयास यह भी लगाया जा रहा था कि वैशालीनगर से तुलसी साहू को कांग्रेस पार्टी उम्मीदवार बना सकती है। लेकिन अंतिम सूची आने के बाद इन कयासों पर विराम लगा।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *