जिला बनने पर बदल गई बालोद की तस्वीर : डॉ. रमन सिंह

रायपुर, 05 जून (आरएनएस)।  प्रदेश व्यापी विकास यात्रा के अपने तूफानी दौरा कार्यक्रम के तहत मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह नवगठित बालोद जिले के ग्राम डौंडी, कुसुमकसा, चिखलकसा, दल्लीराजहरा और गुजरा की स्वागत सभाओं में जनता से मिलते हुए विकास रथ में आज शाम जिला मुख्यालय बालोद पहुंचे। वहां आयोजित विशाल आमसभा को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा-जिला बनने के सिर्फ छह साल के भीतर बालोद क्षेत्र की तस्वीर बदल गई है। प्रशासनिक सुविधाएं जनता के नजदीक पहुंची हैं।
डॉ. सिंह ने आमसभा में बालोद जिले के विभिन्न क्षेत्रों के लिए लगभग 158 करोड़ रूपए के 144 निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास किया। उनके हाथों बालोद-धमतरी सड़क का भी लोकार्पण हुआ। इसके निर्माण में करीब 65 करोड़ रूपए की लागत आई है। उन्होंने आमसभा में ग्राम सुन्दरा-देवीनवागांव के बीच तांदूला नदी पर दस करोड़ 55 लाख रूपए की लागत से निर्मित उच्च स्तरीय पुल का भी लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने इसके अलावा बालोद की आमसभा में 38 हजार 804 परिवारों को आबादी पट्टे, चार हजार गरीब परिवारों की महिलाओं को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस कनेक्शन और श्रम विभाग की योजनाओं के तहत चार हजार से ज्यादा श्रमिकों को साईकिल, सिलाई मशीन आदि का वितरण किया। डॉ. सिंह ने आज ही दल्लीराजहरा में आयोजित विकास यात्रा की स्वागत सभा में वहां 100 बिस्तर अस्पताल निर्माण के लिए जल्द भूमिपूजन किए जाने की घोषणा की। उन्होंने यह भी कहा कि लौह अयस्क की नगरी दल्लीराजहरा में आईआईटी रूड़की द्वारा सर्वेक्षण किया जा चुका है, जिसकी रिपोर्ट के सत्यापन के बाद दल्लीराजहरा में भी आबादी पट्टों का वितरण किया जाएगा।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *