भारतीय रेलवे अगले 10 दिनों में चलाएगा 2600 अतिरिक्त श्रमिक स्पेशल ट्रेनें

0-36 लाख प्रवासियों को होगा फायदा
0-पिछले 23 दिनों में 2600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 36 लाख ने किया सफर
नई दिल्ली,23 मई (आरएनएस)। जहां देश महामारी कोविड-19 से जूझ रहा है, वहीं भारतीय रेलवे इस महत्वपूर्ण समय के दौरान गंभीर रूप से प्रभावित लोगों को राहत देने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। प्रवासियों को गृह राज्य तक पहुँचने के लिए राहत प्रदान करने के निरंतर प्रयास में एक बड़े फैसले में रेल मंत्रालय ने राज्य सरकारों की जरूरतों के अनुसार देश भर में अगले दस दिनों में 2600 अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन करने का निर्णय लिया है। यह पहल अपेक्षित है देश भर में फंसे 36 लाख यात्रियों को लाभ पहुंचाना।
भारतीय रेलवे के अनुसार रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने शनिवार को कहा कि एक मई से रेलवे ने श्रमिक विशेष ट्रेनें चलाना शुरू कर दिया था, ताकि प्रवासियों, तीर्थयात्रियों, पर्यटकों, छात्रों और अन्य व्यक्तियों को अलग-अलग स्थानों पर ले जाया जा सके। इन विशेष ट्रेनों को ऐसे फंसे हुए व्यक्तियों को भेजने और प्राप्त करने के लिए मानक प्रोटोकॉल के अनुसार संबंधित राज्य सरकारों के अनुरोध पर बिंदु से बिंदु तक चलाया जा रहा है। रेलवे और राज्य सरकारों ने इन श्रमिक स्पेशल के समन्वय और सुचारू संचालन के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। इस प्रयास में भारतीय रेलवे ने पिछले 23 दिनों में 2600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं, जिनके जरिए लगभग 36 लाख फंसे प्रवासियों को अब तक उनके गृह राज्यों में पहुँचाया गया है। उन्होंने बताया कि श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के अलावा रेल मंत्रालय ने स्पेशल ट्रेनों के 15 जोड़े शुरू किए हैं। 12.05.2020 और 200 ट्रेन सेवाओं को 01 जून, 2020 से शुरू करने की घोषणा की।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *