देश को 5 हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में मदद कर सकती हैं कृषि सहकारी समितियां: तोमर

नईदिल्ली,11 अक्टूबर (आरएनएस)। कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने शुक्रवार को नई दिल्ली के प्रगति मैदान में पहले ‘भारत अंतर्राष्ट्रीय सहकारिता व्यापार मेलाÓ (आईआईसीटीएफ) का उद्घाटन किया। यह तीन दिवसीय कार्यक्रम 13 अक्टूबर तक चलेगा। भारत के 94 प्रतिशत किसान किसी न किसी सहकारी संस्थान के सदस्य हैं। इसके मद्देनजर आईआईसीटीएफ ने भारत और विदेशों में सहकारिताओं के बीच व्यापार को प्रोत्साहन देने तथा प्रमुख कृषि उत्पादों के निर्यात संवर्धन के जरिये किसानों की आया दोगुनी करने के संबंध में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजऩ के अनुरूप लक्ष्य निर्धारित किया है।
उद्घाटन समारोह में तोमर ने कहा कि आज का दिन भारत की पवित्र धरा पर एक गौरवशाली दिन है। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का आयोजन एनसीडीसी ने कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय और वाणिज्य मंत्रालय के सहयोग से किया है। तोमर ने कहा कि इन तीनों के प्रयासों से आज न केवल भारत की सहकारिताएं बल्कि 35 देशों की सहकारिताएं इसमें हिस्सा ले रही हैं। उन्होंने कहा कि सहकारिताएं किसानों की आय दोगुना करने और पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यावस्थाआ के संबंध में प्रधानमंत्री नरेन्द्रप मोदी के विजऩ को पूरा करने में अहम भूमिका निभायेंगी।
तोमर ने कहा कि सहकारिता भारतीय मूल्यों और संस्कृति का एक प्रमुख स्तंभ है। उन्होंने कहा कि यह आयोजन एक ऐतिहासिक अवसर हैं, जिसमें देश में सहकारिताओं द्वारा सामना की जाने वाली चुनौतियों पर चर्चा होगी। उन्होंने अमूल का उदाहरण देते हुए कहा कि यह एक सहकारी संस्था है, जिसने बहुत सफलता प्राप्त की है।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *