सरकार आंतरिक सुरक्षा समस्याओं को सुलझाने दृढ़ संकल्पित: रेड्डी

हैदराबाद,27 जुलाई (आरएनएस)। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी.किशन रेड्डी ने सीआरपीएफ के 81 वें स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर हैदराबाद में सीआरपीएफ के ग्रुप सेंटर, चन्द्रयान गुट्टा में केंद्र सरकार के रुख को स्पष्ट किया कि सभी प्रकार की आंतरिक सुरक्षा समस्याओं का दृढ़ता के साथ समाधान किया जाएगा।
मंत्री ने नक्सलियों द्वारा की जाने वाली हिंसा को नियंत्रित करने में सीआरपीएफ की भूमिका की सराहना करते हुए संतोष जताया कि इस मुद्दे पर कड़े रुख के कारण पिछले पांच वर्षों में माओवादी हिंसा में काफी हद तक कमी आई है। उन्होंने देश भर में फैली विभिन्न चुनौतियों, विशेष रूप से जम्मू-कश्मीर और उत्तर पूर्वी राज्यों में आंतरिक सुरक्षा को बनाए रखने में सीआरपीएफ की भूमिका की भी प्रशंसा की।
रेड्डी ने यह भी कहा कि सरकार सैनिकों को सभी प्रकार के तकनीकी गैजेट, आधुनिक हथियार प्रदान करेगी और सीआरपीएफ से संबंधित सभी कल्याणकारी मुद्दों पर भी ध्यान देगी। उन्होंने 2019 के आम चुनाव के सफल आयोजन में अधिकारियों और सहयोगियों को उनके पेशेवर रुख के लिए भी बधाई दी।
संस्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर सीआरपीएफ ने हैदराबाद में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया। रेड्डी ने देश भर में ड्यूटी के दौरान सीआरपीएफ के जवानों द्वारा किए गए बलिदानों को याद करते हुए हैदराबाद के सी.पी. अंजनी कुमार और दक्षिणी सेक्टर के आईजीपी एम. आर.नाइक और बल के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ शहीद स्मारक पर पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि दी।
इस अवसर पर पुलवामा हमले में 40 शहीदों के प्रतीकात्मक सम्मान के रूप में 40 किस्मों के पौधे लगाए गए। सीआरपीएफ के 81 वें स्थापना दिवस के अवसर पर मंत्री द्वारा एक रक्तदान शिविर का उद्घाटन किया गया जिसमें सीआरपीएफ के 81 कर्मियों ने रक्तदान किया।
रेड्डी ने सेक्टर ट्रेनिंग नोड का भी दौरा किया और विभिन्न पेशेवर प्रशिक्षण कार्यक्रमों के तहत सैनिकों द्वारा प्रस्तुत किए गए प्रदर्शनों को देखा। सैनिकों ने नक्सल क्षेत्रों में नक्सल ठिकानों पर छापेमारी के परिदृश्यों का चित्रण प्रस्तुत किया और इसके बाद अराजकता विरोधी अभियानों में प्रयुक्त किए जाने वाले आधुनिक हथियारों और उपकरणों का प्रदर्शन किया और साथ ही, शारीरिक फिटनेस प्रशिक्षण कार्यक्रम पर भी एक प्रस्तुति दी।
रैपिड एक्शन फोर्स द्वारा भीड़ हटाने और भीड़ नियंत्रण पर प्रस्तुत एक अन्य प्रदर्शन ने सभी दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। बाद में मंत्री ने तेलंगाना और आंध्र प्रदेश राज्यों में तैनात बल के विभिन्न परिचालन और प्रशासनिक मुद्दों पर सीआरपीएफ के सभी वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की। रेड्डी ने जवानों और अधिकारियों और उनके परिवारों के साथ भी परस्पर बातचीत की।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *