मंत्रिमंडल ने रेसुब सेवा को संगठित समूह ‘क का दर्जा देने को दी मंजूरी

नईदिल्ली,10 जुलाई (आरएनएस)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) को संगठित समूह ‘कÓ का दर्जा देने तथा कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग के क्रमश: 24 अपै्रल 2009 और 06 जून 2000 के दिशा-निर्देशों और अनुवर्ती अनुदेशों के अनुसार 01 जनवरी 2006 से गैर- क्रियात्मक वित्तीय उन्नयन (एनएफएफयू) के अनुवर्ती लाभ और 06 जून 2000 से वरिष्ठ ड्यूटी पद (एसडीपी) का 30 प्रतिशत एनएफएसजी गैर-क्रियात्मक सलेक्शन ग्रेड (एनएफएसजी)देने की मंजूरी दी है।
आरपीएफ को संगठित समूह ‘कÓ सेवा का दर्जा प्रदान करने से सेवा में स्थिरता समाप्त होगी, अधिकारियो की कैरियर प्रगति में सुधार होगा और उनका प्रेरणात्मक स्तर कायम रहेगा। आरपीएफ के योग्य अधिकारी लाभान्वित होंगे।
दिल्ली उच्च न्यायालय ने अपने 04 दिसंबर 2012 के आदेश द्वारा रेलवे को आरएएफ को समूह ‘कÓ सेवा का दर्जा प्रदान करने का निर्देश दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने 05 फरवरी 2019 के आदेश द्वारा इसकी पुष्टि कर दी है। रेलवे बोर्ड ने आरपीएफ को संगठित समूह ‘कÓ सेवा का दर्जा प्रदान करने का प्रस्ताव किया था।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *