फेल विद्यार्थी को हमेशा से रही है टॉपर से चिढ़

नई दिल्ली,10 फरवरी (आरएनएस)। भाजपा के वरिष्ठï नेता और केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने राफेल सौदे मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर पीएम नरेंद्र मोदी से निजी दुश्मनी निकालने जैसा व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए राहुल की फेल विद्यार्थी और पीएम की टॉपर से की। इलाज करा कर विदेश से लौटते ही उन्होंने राहुल पर तीखा वार किया और कहा कि एक फेल विद्यार्थी हमेशा से टॉपर को नापसंद करता आया है। इस दौरान जेटली ने गाय पर कांग्रेस पर दोहरा स्टैंड अपनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि इस पार्टी के नेता केरल में कैमरे के सामने गोमांस खाते हैं और मध्य प्रदेश में राष्टï्रीय सुरक्षा कानून के तहत मामला दर्ज करते हैं।
कई ट्वीटों के माध्यम से जेटली ने राहुल पर जीएसटी, रक्षा सौदे में दलाली, आर्थिक अपराध कर विदेश भागे उद्योगपतियों के मामले में भी निशाना साधा। जेटली ने कहा कि बैंक में लूट यूपीए कार्यकाल के दौरान 2008 से 2014 के बीच हुई। कांग्रेस के कार्यकाल में एक भी सौदा बिना दलाली के नहीं हुआ। वर्तमान सरकार ने जब ऐसे उद्योगपतियोंं पर शिकंजा कसा तो ये विदेश भाग गए। इस दौरान कांग्रेस ने बिचौलियों और ऐसे उद्योगपतियों को भगाने का आरोप सरकार पर मढ़ा। मगर अब जब बिचौलिये वापस लाए जा रहे हैं और भगोड़ों को वपस लाने की जमीन तैयार हो रही है तब इनकी बोलती बंद हो गई है।
केंद्रीय मंत्री कांग्रेस पर फर्जी आंदोलनों और झूठ के माध्यम से मोदी सरकार को बदनाम करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि चूंकि झूठ ज्यादा देर तक नहीं टिकते, इसलिए राफेल मामले में कांग्रेस का हाथ खाली रहा। जहां तक राफेल सौदे का सवाल है तो इससे भारत की मुकाबला करने की सामरिक क्षमता बढ़ी है। इस सौदे में सरकार ने करोड़ों रुपये बचाए हैं। मगर जब कांग्रेस का इस मामले में चेहरे से नकाब उतरा तो उसने आधे अधूरे पत्र से सरकार के खिलाफ एक नई धारणा बनाने की असफल कोशिश की। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह सरकार हमेशा सेना के साथ खड़ी रही है। कांग्रेस की तरह किसी ने सेना प्रमुख को सड़क का गुंडा नहीं कहा। सेना पर सरकार के तख्तापलट करने जैसे शर्मनाक खबरें नहीं छपवाई।
००

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *