तेन्दूपत्ता बोनस तिहार लाखों वनवासियों का त्यौहार : डॉ. रमन सिंह

रायपुर, 02 दिसंबर (आरएनएस)। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है किराज्य सरकार तेन्दूपत्ता संग्राहकों के जीवन स्तर को सुधारने के लिए वचनबद्ध है। डॉ. सिंह ने आज दोपहर राज्य के नक्सल हिंसा पीडि़त जिला मुख्यालय बीजापुर के मिनी स्टेडियम में प्रदेश व्यापी दस दिवसीय तेन्दूपत्ता बोनस तिहार का शुभारंभ करते हुए इस आशय के विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा – तेन्दूपत्ता बोनस तिहार प्रदेश के मेहनतकश लाखों वनवासियों का त्यौहार है। डॉ. सिंह ने कार्यक्रम में बीजापुर जिले के लिए लगभग 212 करोड़ रूपए के निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास भी किया।
उन्होंने प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों के सम्मेलनों के रूप में आयोजित इस कार्यक्रम में नक्सल पीडि़त बीजापुर और दंतेवाड़ा जिलों की वनोपज समितियों के 64 हजार 798 संग्राहकों को वर्ष 2016 के संग्रहण कार्य के लिए लगभग 17 करोड़ रूपए का प्रोत्साहन पारिश्रमिक (बोनस) आन लाइन वितरित किया। उन्होंने बीजापुर के कार्यक्रम के बाद कोण्डागांव जिले के धनोरा (केशकाल) में आयोजित बोनस तिहार में दो नक्सल पीडि़त जिलों- कोण्डागांव और नारायणपुर के तीन वन मंडलों से संबंधित 74 हजार 791 संग्राहकों के लिए छह करोड़ रूपए से ज्यादा तेन्दूपत्ता बोनस का वितरण किया। इस प्रकार मुख्यमंत्री के हाथों प्रदेश व्यापी तेन्दूपत्ता बोनस तिहार के प्रथम दिवस पर आज चार नक्सल पीडि़त जिलों के कुल एक लाख 39 हजार 589 संग्राहकों को लगभग 23 करोड़ रूपए का तेन्दूपत्ता बोनस मिला। बोनस तिहार के साथ बीजापुर में जिला स्थापना का उत्सव भी मनाया गया। बीजापुर जिले का गठन वर्ष 2007 में हुआ था।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *