प्रदेश में हरियर छत्तीसगढ़ महाभियान के तहत इस वर्ष सात करोड़ पौधे लगाए जाएंगे : डॉ. रमन सिंह

रायपुर, 02 अगस्त (आरएनएस)। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने आज यहां पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के परिसर में हरियर छत्तीसगढ़ वृक्षारोपण महाभियान के तहत आयेाजित वन महोत्सव में स्कूल-कॉलेजों के विद्यार्थियों और नागरिकों के साथ वृक्षारोपण किया। डॉ. सिंह ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि हरियर छत्तीसगढ़ महाभियान के तहत इस वर्ष मानसून के दौरान प्रदेश भर में आम जनता की भागीदारी से विभिन्न प्रजातियों के सात करोड़ पौधे लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय परिसर में कृष्णवट (बड़) का पौधा लगाया, जो औषधीय गुणों से परिपूर्ण है और जिसे मक्खन कटोरी के नाम से भी जाना जाता है। मुख्यमंत्री ने वृक्षारोपण कार्यक्रम को यादगार बनाने के लिए हरियर छत्तीसगढ़ महाभियान की पट्टिका का अनावरण भी किया। उन्होंने वृक्षारोपण के बाद विद्यार्थियों और नागरिकों को वृक्षारोपण, पर्यावरण और वन्यप्राणी को सुरक्षित रखने और जनमानस में इनके प्रति चेतना जगाने की शपथ दिलाई। डॉ. रमन सिंह ने कहा – पर्यावरण की रक्षा हम सबकी नैतिक जवाबदारी है। पौधारोपण जैसे कार्यो से प्रकृति के प्रति जुडाव बढ़ता है और पृथ्वी को बचाने के लिए हमारी भागीदारी और भूमिका बढ़ती है। उन्होंने कहा वर्षो बाद जब वृक्ष लगाने वाले बच्चें और लगाये गये पौधें दोनों बड़े हो जायेंगे तो लगाने वाले बच्चों को इन्हें देखने में काफी आनंद आयेंगा और उन्हें सुकून महसूस होगा। मुख्यमंत्री ने कहा इस वर्ष छत्तीसगढ़ में 7 करोड़ पौधों का वृक्षारोपण किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा ऐसे कार्यक्रमों के जरिये आम जनता के बीच पेड़-पौधों के महत्व को लेकर जागरूकता आती है। समाज में पर्यावरण संरक्षण का संदेश जाता है। उन्होंने कहा राज्य को हरा -भरा बनाने के लिए पौधरोपण के साथ-साथ उनकी सुरक्षा और देखभाल का भी संकल्प लेना चाहिए। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रदेश के वन तथा विधि एवं विधायी कार्य मंत्री महेश गागड़ा ने पर्यावरण की रक्षा और वृक्षारोपण के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में नागरिकों की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित किया। राजभाषा आयोग के अध्यक्ष पद्मडॉ. सुरेन्द्र दुबे ने वृक्षारोपण को बढ़ाने की अपील बच्चों से की। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (वन विभाग) सी के खेतान ने बताया कि पर्यावरण के प्रति नागरिकों को सजग करने की दृष्टि से राज्य में वर्ष 2007 वन महोत्सव के माध्यम से व्यापक वृक्षारोपण का कार्य किया जा रहा है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *